logo
Latest

निर्वाचन विभाग द्वारा मेडिकल कॉलेज में लगाया गया कैंप


वोटर पहचान पत्र बनाने के लिए उमड़े एमबीबीएस के छात्र

कैंप के जरिए छात्रों को वोटर आईडी कार्ड बनाने के लिए किया जा रहा प्रेरित

श्रीनगर। राजकीय मेडिकल कॉलेज श्रीनगर में वोटर पहचान पत्र बनाने के लिए निर्वाचन विभाग की टीम पहुंचने पर एमबीबीएस के छात्र-छात्राएं वोटर कार्ड बनाने के लिए उमड़ पड़ी। पहले दिन 50 से अधिक छात्र-छात्राएं पहुंची, जिनका अभी तक पहचान पत्र नहीं बन पाया था। मेडिकल कॉलेज के छात्र-छात्राओं के साथ ही ऐसे कर्मचारियों एवं डॉक्टर जिनके पास वोटर आईडी कार्ड नहीं है या नहीं बना पाये है, इसके लिए निर्वाचन विभाग की टीम द्वारा कैंप लगाया जा रहा है। इससे वोटर कार्ड बनाने के लिए छात्र आगे आ पायेगे।


कैंप के जरिए निर्वाचन विभाग की टीम द्वारा छात्र-छात्राओं को वोटर आईडी बनाने के लिए प्रेरित करने के साथ ही वोटर आईडी बनाने के लिए आवश्यक दस्तावेज की जानकारी दे रही है। मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सीएमएस रावत ने बताया कि निर्वाचन आयोग की ओर से संस्थानों में भी छात्रों के वोटर कार्ड बनाने के लिए कैंप लगाये जा रहे है। जिसके तहत मेडिकल कॉलेज कैंपस में भी कैंप लगाकर छात्र-छात्राओं के वोटर आईडी बनाने हेतु पंजीकरण किया जा रहा है। मेडिकल कॉलेज में पढ़ने वाले ऐसे सभी छात्र जिन्होने 18 वर्ष में प्रवेश कर लिया हो तो उनका चयन कर वोटर कार्ड बनाया जा रहा है। शैक्षणिक संस्थानों में कैंप के जरिए वोटर कार्ड के लिए पंजीकरण करने से सभी युवा वर्ग के वोटर कार्ड बन पायेगे। कई युवा वोटर कार्ड नहीं बना पाते है, ऐसे कैंप लगने से वोटर कार्ड बनाने में युवाओं को आसानी होगी। प्रदेश के मा. चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत जी ने कॉलेज संस्थानों में भी कैंप लगाने की पहल की है, ताकि संस्थानों के पढ़ रहे छात्र-छात्राओं को अपने ही कैंपस में वोटर आईडी बनाने की सुविधा प्रदान हो सके।

TAGS: No tags found

Video Ad