logo
Latest

चारधाम यात्रा -2022 : देव डोलियों का धामों के लिए प्रस्थान कार्यक्रम, इस तारीख से होंगे दर्शन


देहरादून : जो तीर्थयात्री उतराखण्ड की चारधाम आने की तैयारी कर रहे हैं उनके लिए बहुत ही अच्छी खुशखबरी है। पहले तो धामी सरकार ने अब बाहर से आने वाले चारधाम यात्रियों के लिए बॉर्डर पर कोविड-19 टेस्ट की अनिवार्यता को खत्म कर दिया है और दूसरी इस साल गंगोत्री, यमुनोत्री, केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने और देव डोलियों के निकलने के कार्यक्रम तय हो गए हैं। इस अवसर पर बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के मीडिया प्रभारी डॉ हरीश गौड़ के अनुसार केदारनाथ धाम के कपाट शुक्रवार के दिन 6 मई को खोल दिए जाएंगे, केदारनाथ धाम के कपाट सुबह 6:15 पर खुलेंगे।

यह भी पढ़ें: युवा प्रधान ने साल भर में ही बदल दी गांव की तस्वीर।

केदारनाथ यात्रा को लेकर उन्होंने बताया कि भगवान केदार पंचमुखी डोली के प्रस्थान का कार्यक्रम और उसके अंतर्गत भैरव पूजा रविवार के दिन 1 मई को रखी गई है। इस दिन ही भगवान केदार की पंचमुखी डोली धाम प्रस्थान करेगी और थी प्रवास भी होगा। इसके बाद 2 मई को यानी कि सोमवार के दिन सुबह 9:00 बजे विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी पहला पड़ाव होगा और यही प्रवास रहेगा।

चारधाम इसके बाद 3 मई को विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी से फटा की ओर सुबह 8:00 बजे प्रस्थान होगा और वही प्रवास रहेगा। 4 मई को फाटा से सुबह 9:00 बजे गोरा माई मंदिर गौरीकुंड की ओर प्रस्थान किया जाएगा और उसके बाद 5 मई को गौरीकुंड से सुबह 6:00 बजे भगवान की पंचमुखी डोली केदारनाथ धाम में प्रस्थान करेगी। 6 मई शुक्रवार सुबह 6:15 पर बाबा केदार के कपाट केदारनाथ यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोल दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड की बेटी किरन नेगी के हत्यारों को मिले फांसी की सजा,उत्तराखंड के विभिन्न सामाजिक संगठनों ने की सुप्रीम कोर्ट से मांग

केदारनाथ यात्रा के बारे में ज्यादा बताते हुए उन्हौने कहा की इसके साथ ही बदरीनाथ धाम के कपाट 8 मई को सुबह 6:25 पर खोले जाएंगे। देवडोली प्रस्थान कार्यक्रम के अंतर्गत 6 मई शुक्रवार प्रात:9 बजे श्री नृसिंह मंदिर जोशीमठ से आदि गुरु शंकराचार्य जी की गद्दी एवं तेलकलश गाडू घड़ा सहित श्री बदरीनाथ धाम के रावल जी योगध्यान बदरी प्रस्थान एवं प्रवास पांडुकेश्वर रहेगा तथा 7 मई शनिवार प्रात: योग बदरी पांडुकेश्वर से आदि गुरु शंकराचार्य जी की गद्दी, रावल जी सहित देवताओं के खजांची श्री कुबेर जी एवं भगवान के सखा उद्धव जी, गाडू घड़ा तेल कलश श्री बदरीनाथ धाम को पांडुकेश्वर से प्रात: 9 बजे श्री बदरीनाथ धाम को प्रस्थान करेंगे तथा बदरीनाथ धाम पहुंचेग तथा 8 मई प्रात: 6 बजकर 25 मिनट पर शीतकाल हेतु श्री बदरीनाथ धाम के कपाट खुलेंगे।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद के नोडल अधिकारी के.एस.चौहान को गेस्ट ऑफ ऑनर सम्मान से सम्मानित किया गया

मंदिर समिति ग़गोत्री एवं मंदिर समिति यमुनोत्री से प्राप्त जानकारी के अनुसार श्री गंगोत्री धाम के कपाट खुलने की तिथि 3 मई मंगलवार दोपहर 11.15 बजे पूर्वाह्न है।श्री यमुनोत्री धाम कपाट खुलने की तिथि 3 मई मंगलवार अपराह्न दिन 12.15 बजे है। यमुना जी की डोली 3 मई प्रात: शीतकालीन गद्दी स्थल खुशीमठ(खरसाली) से प्रस्थान करेगी‌ । पवित्र हेमकुंड साहिब एवं श्री लोकपाल तीर्थ के कपाट रविवार 22 मई को को खुलेंगे।

चारधाम यात्रा -2022 बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति

 

 

TAGS: No tags found

Video Ad



Top