logo
Latest

एम्स में 11 बजे के बाद नहीं बनेगा पर्चा।


ब्यूरो/ उत्तराखंड लाइव: 19 की तीसरी लहर के चलते सुरक्षा के मद्देनजर एम्स, ऋषिकेश परिसर में बिना मास्क के प्रवेश निषेद्य कर दिया गया है। इसके साथ ही अस्पताल में वही मरीज व तीमारदार दाखिल हो सकेंगे जो कोविड वैक्सीन की डबल डोज लगा चुके हैं। कोरोना वायरस की तीसरी वेब के चलते लगातार बढ़ रही मरीजों की संख्या के मद्देनजर एम्स प्रशासन ने एहतियातन कदम उठाए हैं। कोविड कमांडर (अस्पताल प्रशासन) ब्रिगेडियर प्रोफेसर यूबी मिश्रा की ओर से जारी निर्देशों के तहत एम्स अस्पताल में ओपीडी का समय अब पूर्वाह्न 11 बजे तक निर्धारित किया गया है। 11 बजे के बाद किसी भी मरीज का ओपीडी पंजीकरण नहीं होगा। अस्पताल में आने वाले मरीजों के लिए मास्क अनिवार्य कर दिया गया है, बिना मास्क के किसी को भी एम्स में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। साथ ही यहां उपचार कराने वाले मरीजों व उनके तीमारदारों के लिए कोविड वैक्सीन की डबल डोज लगे होने का प्रमाण होना अनिवार्य कर दिया गया है। जिसकी मॉनिटरिंग का जिम्मा कम्युनिटी एंड फेमिली मेडिसिन विभाग को सौंपी गई है। अलबत्ता इमरजेंसी में आने वाले मरीजों, 18 साल से कम उम्र के बच्चों, किशोर व युवाओं के साथ ही उनके तीमारदारों के लिए डबल डोज कोविड वैक्सीन की अनिवार्यता में रियायत दी गई है। संस्थान के गेट नंबर -तीन पर रजिस्ट्रेशन काउंटर की व्यवस्था फिर से बहाल कर दी गई है। जिसमें एक काउंटर कोविड संदिग्ध मरीजों के लिए बनाया गया है। इसके साथ ही सामान्य मरीजों के लिए पंजीकरण के लिए अलग से काउंटर बनाया गया है। बताया गया है कि पेशेंट व उनके तीमारदार गेट नंबर- तीन से अस्पताल में प्रवेश कर सकेंगे। इस दौरान सीएफएम विभाग के चिकित्सकों की टीम संदिग्ध व सामान्य मरीजों की पहचान करेगी व उसी क्रम में मरीजों का अलग-अलग काउंटरों के माध्यम से पंजीकरण कराया जाएगा।

TAGS: No tags found

Video Ad



Top