logo
Latest

हरियाणा को मिलेगा उसका राज्य गीत


विधानसभा के शीतकालीन सत्र में रखा जाएगा प्रस्ताव- मुख्यमंत्री

28 दिसंबर को केंद्रीय जल शक्ति मंत्री की अध्यक्षता में होगी एसवाईएल की बैठक

ऊर्जा दक्षता सूचकांक में देशभर में हरियाणा को‌ मिला दूसरा पुरस्कार

चंडीगढ़ : हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि जल्द ही हरियाणा को उसका अपना राज्य गीत मिलेगा। 15 दिसंबर, 2023 से शुरू हो रहे विधानसभा के शीतकालीन सत्र में इस संबंध में प्रस्ताव रखा जाएगा।

मुख्यमंत्री ने आज यहां प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि विभिन्न प्रतियोगिताओं के माध्यम से सरकार ने 3 गीतों का चयन किया है और ‌सदन के पटल पर तीनों गीतों को पेश किया जाएगा। मतों के आधार पर सर्वाधिक वोट मिलने वाले गीत को एक साल के लिए राज्य गीत घोषित किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार बनने के बाद हमने साल में कम से कम 3 विधानसभा के सत्र बजट सत्र, मानसून और शीतकालीन सत्र बुलाने सुनिश्चित किए हैं, ताकि विधायकों को ज्यादा से ज्यादा भागीदारी करने का अवसर मिले। पिछली सरकार में तो 2 ही सत्र बुलाए जाते थे।

मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा और पंजाब के मध्य चले आ रहे एसवाईएल मामले को लेकर केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र शेखावत की अध्यक्षता में 28 दिसंबर, 2023 को चंडीगढ़ में दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक होगी।

ऊर्जा दक्षता सूचकांक में देशभर में हरियाणा को‌ मिला दूसरा पुरस्कार

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार-2023 में ऊर्जा दक्षता सूचकांक में देशभर में हरियाणा को‌ दूसरा पुरस्कार मिला है। आज राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु द्वारा हरियाणा के ऊर्जा मंत्री को यह पुरस्कार प्रदान किया गया है। यह प्रदेशवासियों के लिए गौरव की बात है।

एचकेआरएन के माध्यम से 986 लोगों को मिले जॉब ऑफर लेटर

प्रेस वार्ता के दौरान मुख्यमंत्री ने हरियाणा कौशल रोजगार निगम के तहत अस्थाई नौकरी के लिए 986 लोगों को जॉब ऑफर लेटर भेजे। उन्होंने कहा कि पहले से अनुबंध आधार पर लगे कर्मचारियों को हरियाणा कौशल रोजगार निगम में पोर्ट किया गया है और नये सिरे से भी लोगों को नौकरी दी जा रही है। उन्होंने कहा कि निगम के तहत लोगों को ‌नौकरी देने के कुछ मानदंड तय किए गए हैं, जिसके तहत सॉफ्टवेयर के माध्यम से बेहद पारदर्शी तरीके से योग्य अभ्यर्थियों का चयन किया जाता है।

इस अवसर पर राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव तथा वित्त आयुक्त, राजस्व टीवीएसएन प्रसाद, नगर एवं ग्राम आयोजना विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अरूण कुमार गुप्ता, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव वी उमाशंकर, ‌सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के आयुक्त एवं सचिव पंकज अग्रवाल, शहरी स्थानीय निकाय विभाग के आयुक्त एवं सचिव विकास गुप्ता, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉ अमित अग्रवाल, मुख्यमंत्री के उप प्रधान सचिव के मकरंद पाण्डुरंग, नगर एवं ग्राम आयोजना विभाग के निदेशक अमित खत्री, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार बी बी भारती, मीडिया सलाहकार राजीव जेटली,मीडिया सचिवप्रवीण आत्रेय, चीफ मीडिया कॉर्डिनेटर सुदेश कटारिया उपस्थित रहे।

TAGS: No tags found

Video Ad


Top