logo
Latest

ढिकवाल गांव में चार वर्षीय मासूम को गुलदार ने बनाया निवाला, मातम


आंगन में दादी के हाथ से झपट कर ले गया गुलदार, परिजन रो—रोकर बेहाल।
श्रीनगर से 20 किमी दूर खिर्सू ब्लॉक के ढिकवाल गांव की है यह घटना।

श्रीनगर, उत्तराखण्ड लाइव: श्रीनगर क्षेत्र अंर्तगत ढिकवाल गांव से दिल दहला देने वाला मामला प्रकाश में आया है। जहॉ चार साल की मासूम बच्ची को गुलदार ने अपना निवाला बना लिया। बच्ची घर के आंगन में ही अपनी दादी का हाथ पकड़े चल रही थी। घटना से एक ओर जहॉ पूरे इलाके में खौफ हैं वहीं बच्ची के परिजनों का रो—रोकर बुरा हाल है।

खिर्सू ब्लॉक के ढिकवाल गांव में गणेश सिंह की चार वर्षीय पुत्री आईसा मंगलवार को सवा ग्यारह बजे घर के आंगन में अपनी दादी का हाथ पकड़ टहल रही थी। तभी पीछे से गुलदार बच्ची पर झपटा और दादी के हाथ से बच्ची को छीन जंगल की ओर ले गया। दादी के शोर मचाने पर परिजन और आस—पास गांव के लोग भी मौके पर पहुंचे और शोर मचाने लगे। शोर सुन कर गुलदार ने बच्ची को जंगल के रास्ते पर छोड़ तो दिया लेकिन हमले में घायल बच्ची तब तक मौके पर ही दम तोड़ चुकी थी।

देखते ही देखते पूरे इलाके में मातम और खौफ का माहौल हो गया। बच्ची की मॉ, दादी और परिजन विलाप करते रह गए। गुस्साए लोगों ने वन विभाग के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। उन्होंने कहा कि कई बार वन विभाग को इस बारे में जानकारी दी गई कि क्षेत्र में गुलदार चहलकदमी बनी हुई है। लेकिन बावजूद इसके विभाग ने पिंजरा नहीं लगाया।

गुस्साए लोग बच्ची का शव लिए धरने पर बैठ गए हैं। वे गुलदार को जान से मारने की मांग पर अड़े हैं। मौके पर पहुंची एसडीएम नुपूर वर्मा ने परिजनों से मिल घटना की जानकारी ली। कहा कि ग्रामीणों की मांग पर डीएफओ पौड़ी द्वारा गुलदार के मारने के आदेश हेतु पत्र भेज दिया गया है। जिस पर स्वीकृति मिलते ही शिकारी तैनात कर दिये जायेगे।

TAGS: No tags found

Video Ad



Top