logo
Latest

नई टिहरी शहर में इस जगह चल रही भवनों पर जेसीबी, वजह जानिए,,


नई टिहरी/उत्तराखंड लाइव: मास्टर प्लॉन शहर नई टिहरी के बौराड़ी स्थित 7डी कॉलोनी क्षेत्र में तहसील प्रशासन और पुनर्वास विभाग की टीम ने अतिक्रमण को ध्वस्त कर दिया टीम के अनुसार संबंधित परिवार को अतिक्रमण हटाने के लिए पूर्व में कई बार नोटिस जारी किया गया। बावजूद अतिक्रमण न हटाने पर वहां अवैध रूप से बनाए गए आवासीय कमरे को जबरन तोडने की कार्रवाई करनी पड़ी। इसके विपरीत प्रभावित परिवार का कहना है कि वह टिहरी बांध से प्रभावित है। वर्ष 2004 से उनका परिवार बौराड़ी के 7-डी में निवासरत है। कहा कि प्रशासन ने उत्पीडनात्मक कार्रवाई को अंजाम दिया है।

गुरूवार को टिहरी की एसडीएम अपूर्वा सिंह, पुनर्वास अवस्थापना खंड के ईई धीरेंद्र नेगी ने पुलिस टीम के साथ बौराड़ी के 7-डी पहुंचे। वहां प्रशासन की टीम ने बौराड़ी-बीपुरम मोटर मार्ग के किनारे बने आवासीय कमरे को तोड़ डाला। एसडीएम ने कहा कि यह भूमि पुनर्वास निदेशालय की है। जिस पर अवैध रूप से कब्जा किया गया है। कब्जा हटाने के लिए पिछले एक माह से हरीश लाल को नोटिस जारी किया गया। लेकिन उसने कब्जा नहीं हटाया। जबकि हरीश लाल का कहना है कि वह टिहरी बांध प्रभावित है। 2004 से वे यहां पर निवासरत है। आरोप लगाया कि मानव उत्थान सेवा समिति के दबाव में प्रशासन ने उनके घर को तोड़ा डाला।

उन्होंने जिला प्रशासन से न्याय की गुहार लगाई है। यह भी चेतावनी दी यदि उन्हें जल्द भूमि आंवटित नहीं की गई तो वे कलक्ट्रेट परिसर में परिवार सहित भूख हड़ताल पर बैठने को बाध्य होगे। कहा ऊंची पहुंच रखने वाले लोगों ने कई जगह अतिक्रमण किया है, उन्हें नहीं हटाया जा रहा है। वहीं पुनर्वास के ईई धीरेंद्र सिंह ने उक्त आरोपों को निराधार बताया है।

TAGS: No tags found

Video Ad



Top