logo
Latest

विजय दिवस के शहीदों की शहादत याद कर नम हुई आखें


विजय दिवस की 52वीं वर्षगांठ पर रुद्रप्रयाग कैंट में कार्यक्रम आयोजित

शहीदों के परिवार एवं 1971 की लड़ाई में शामिल सैनिकों का हुआ सम्मान

रुद्रप्रयाग : विजय दिवस की 52वीं वर्षगांठ पर रुद्रप्रयाग कैंट में सैनिक कल्याण बोर्ड की ओर से श्रद्धांजलि एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में शहीदों की शहादत की याद में स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा दी गई भावुक प्रस्तुतियां देख सभी की आखें नम हो गई। इस अवसर पर सैनिक कल्याण बोर्ड द्वारा 1971 की लड़ाई में शामिल पूर्व सैनिकों एवं शहीदों के परिवारों का सम्मान भी हुआ।

विजय दिवस की और भी खबरे देखने के लिए इस पर क्लिक करें :विजय दिवस: आज का दिन पराक्रम का उत्सव मनाने का दिन है : धामी

विजय दिवस की और भी खबरे देखने के लिए इस पर क्लिक करें : विद्यालयों को शिक्षा के लिए बेहतर तो बनाना ही है साथ ही उन्हें सुंदर भी बनाना हैः डॉ0 धन सिंह रावत

विजय दिवस की और भी खबरे देखने के लिए इस पर क्लिक करें : पश्चिमी कमान ने मनाया विजय दिवस,जीओसी-इन-सी पश्चिमी कमान ने वीर नायकों को श्रद्धांजलि अर्पित की


सिक्स ग्रेनेडियर्स के सौजन्य से छावनी परिषद रुद्रप्रयाग में विजय दिवस की 52वीं वर्षगांठ पर आयोजित कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि जिलाधिकारी सौरभ गहरवार, पूर्व सैनिकों एवं वीर नारियों ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। इस दौरान 1971 की लड़ाई में शहीद हुए जनपद रुद्रप्रयाग के वीर सपूतों को पुष्पांजलि भेंट कर उन्हें श्रद्धांजलि भी दी गई। इस अवसर पर राजकीय इंटर काॅलेज रुद्रप्रयाग की छात्राओं ने स्वागत गीत एवं देशभक्ति गीतों पर नृत्य प्रस्तुतियां देकर सभी को भावुक कर दिया। जिलाधिकारी सौरभ गहरवार ने सभी को विजय दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि विजय दिवस हमारे लिए गर्व का दिवस है इसका इतिहास सभी को जानना चाहिए। उन्होंने स्कूली छात्रों द्वारा कार्यक्रम में दी गई प्रस्तुतियों की भी सराहना की।

विजय दिवस की और भी खबरे देखने के लिए इस पर क्लिक करें :विजय दिवस पर शहीदों को नमन कर उन्हें याद किया

जिला सैनिक कल्याण अधिकारी सेवानिवृत्त कर्नल यूएस रावत ने 1971 में पाकिस्तान के साथ हुए युद्ध एवं भारतीय सेना के पराक्रम की गाथा सुनाते हुए विजय दिवस के इतिहास एवं महत्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि जनपद रुद्रप्रयाग से भी तीन वीर शहादत को प्राप्त हुए थे वहीं एक सैनिक युद्ध के दौरान घायल हो गए थे। पूर्व सैनिक संगठन के जिलाध्यक्ष राय सिंह रावत ने कहा कि स्कूली छात्रों के बीच विजय दिवस जैसे कार्यक्रम आयोजित करना एक बेहतरीन पहल है इससे छात्रों को अपने इतिहास की तो जानकारी होगी साथ ही देशप्रेम एवं सेवा का भाव भी पैदा होगा। कार्यक्रम का संचालन किशन सिंह रावत द्वारा किया गया l

विजय दिवस की और भी खबरे देखने के लिए इस पर क्लिक करें :विजय दिवस पर शहीदों को नमन कर उन्हें याद किया

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी श्याम सिंह राणा, मुख्य शिक्षा अधिकारी हेमलता भट्ट, सिक्स ग्रेनेडियर्स से कैप्टन अक्षय, सेवानिवृत सूबेदार मेजर शेर सिंह, कुंवर सिंह, महावीर सिंह, हरि सिंह, ऑनरेरी कप्तान दलबीर सिंह, शिशुपाल सिंह, हरि सिंह राणा, हवलदार प्रहलाद सिंह राणा, राय सिंह बिष्ट, वीर सिंह नेगी, लक्ष्मी देवी, छुमा देवी, सीमा देवी, शिक्षक मनोज थापा सहित स्कूली छात्र-छात्राएं व बड़ी संख्या में अन्य लोग मौजूद रहे।

इन्हें मिला सम्मान
1971 के युद्ध के दौरान घायल हुए पूर्व सैनिक राईफल मैन दयाल सिंह स्वंय कार्यक्रम में पहुंचे थे यहां जिलाधिकारी समेत वरिष्ठ सेना अधिकारियों ने उनको शाॅल ओढ़ाकर सम्मानित किया। वहीं शहीद राईफल मैन गजपाल सिंह के भतीजे सोबन सिंह को भी सम्मानित किया गया। स्कूली छात्राओं के मध्य आयोजित निबंध प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर आयस्का चौहान, दूसरे स्थान पर आकांक्षा बुटोला एवं तीसरे स्थान पर प्रियांशी को भी पुरस्कृत किया गया।

विजय दिवस की और भी खबरे देखने के लिए इस पर क्लिक करें : जनपद पौड़ी में विजय दिवस के कार्यक्रम को धूमधाम से मनाया गया

TAGS: No tags found

Video Ad


Top