logo
Latest

आज का दिन पंजाब समेत पूरे देश के लिए क्रांतिकारी दिन : अरविन्द केजरीवाल


  अब पंजाब में ख़ुद सरकार और सरकारी दफ़्तर आपके घर आएंगे : अरविन्द केजरीवाल 
 
 सरकारी दफ्तरों में होने वाली परेशानियां बंद, अब ‘भगवंत मान सरकार, आपके द्वार’- मुख्यमंत्री  
 लुधियाना :  पंजाब निवासियों को नागरिक केंद्रित सेवाएं मुहैया करवाने के लिए एक और बड़ा कदम उठाते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने आज राज्य में क्रांतिकारी स्कीम ‘भगवंत मान सरकार, आपके द्वार’ का आग़ाज़ किया, जिससे 43 सेवाएं लोगों को घर बैठे मिलेंगी।
 इस स्कीम की शुरुआत करने के मौके पर जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक दिन है, क्योंकि ईमानदार सरकार ने राज्य में असंभव लगने वाली बात को हकीकत में बदल दिया है। उन्होंने कहा कि राज्य ने अरविन्द केजरीवाल की सोच से उपजे ‘दिल्ली मॉडल’ को अपनाया है, जिससे राज्य में जवाबदेही और पारदर्शी शासन के नये युग का आरंभ हुआ है। भगवंत सिंह मान ने उम्मीद अभिव्यक्त की कि यह नागरिक केंद्रित मॉडल समूचे देश में लागू होगा, जिससे देश निवासियों को बेहतर सेवाएं हासिल होंगी।
मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘आज का दिन साधारण दिन नहीं है बल्कि पंजाब और पंजाबियों के लिए निर्णायक पल के तौर पर भारतीय राजनीति और इतिहास के पन्नों में दर्ज होने वाला दिन है। जब भविष्य में यह पूछा जाएगा कि आम आदमी की सुविधा के लिए पंजाब के सरकारी दफ़्तरों में लोगों की परेशानियां कब ख़त्म हुई थीं, तो इसका जवाब यह होगा कि 10 दिसंबर, 2023 को पंजाब ने इस इंकलाब दौर का आधार बांधा था।’’
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज से आम आदमी का मान-सम्मान बहाल होगा, क्योंकि यह सुनिश्चित बनाया गया है कि लोग अपनी जि़ंदगी स्वाभिमान से व्यतीत कर सकें। उन्होंने कहा कि अब से आम व्यक्ति की सरकारी दफ़्तरों में परेशानी और ज़लालत सदा के लिए ख़त्म होगी। भगवंत सिंह मान ने उम्मीद अभिव्यक्त की कि टोल फ्री नंबर 1076 लोगों को उनके घर पर निर्धारित समय में सरकारी सेवाएं मुहैया करवाने में सहायक साबित होगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के पिछले मुख्यमंत्रियों के विपरित वह आम लोगों की दुख-तकलीफ़ें सुनने के लिए ज़मीनी स्तर की स्थिति का जायज़ा लेने के लिए लगातार राज्य का दौरा कर रहे हैं। भगवंत सिंह मान ने बताया कि बीते गुरूवार उन्होंने बस्सी पठानां और श्री फतेहगढ़ साहिब में सांझ केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया था, जिसके उपरांत लोगों के मामूली मसले जो लंबे समय से लम्बित थे, को मिनटों में हल कर लिया गया। उन्होंने अधिकारियों को सचेत करते हुए कहा कि आज 43 सेवाओं की शुरुआत की गई है परन्तु राज्य सरकार की 80 से अधिक स्कीमें शुरू की जाएंगी।
मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘लोगों के रोज़ाना के कामकाज करवाने के लिए मैं और मेरी पार्टी के बाकी 91 विधायक इस स्कीम पर निरंतर नजऱ रखेंगे, जिससे आम आदमी को किसी तरह की समस्या का सामना न करना पड़े। यह सभी सरकारी दफ़्तरों की चैकिंग करेंगे, जिससे आम लोगों को सुविधा होगी।’’ उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने आम आदमी को लाभ देने की बजाय लोगों की लूट की, जिस कारण उनको सत्ता से एक तरफ़ होना पड़ा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले 25 सालों के दौरान पंजाब में केवल दो या तीन परिवारों ने ही राज किया है और अपने निजी हितों के लिए राज्य को बर्बाद कर दिया। उन्होंने कहा कि इन परिवारों ने राज्य के लोगों का शोषण करने के लिए अपनी मजऱ्ी के साथ राज चलाया। भगवंत सिंह मान ने कहा कि अब इन नेताओं को लोगों द्वारा राजनीतिक गुमनामी की ओर धकेल दिया गया है और जब ईमानदार सरकार ने सत्ता संभाली तो राज्य में एक नये युग की शुरुआत हुई।
पंजाब को सभी सामाजिक बुराईयों का सफाया करके देश का अग्रणी राज्य बनाने के लिए लोगों के पूर्ण सहयोग की माँग करते हुए मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि पंजाबियों को अपनी पसंद के हरेक क्षेत्र में जीत प्राप्त करने के अद्वितीय जज़्बे की बख़्शीश प्राप्त है। उन्होंने कहा कि इस कारण पंजाबियों ने अपनी मेहनत और लगन से दुनिया भर में अपनी काबिलियत का सबूत दिया है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि अब समय आ गया है जब पंजाबियों को राज्य से भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद, नशों और अन्य सामाजिक बुराईयों का सफाया करने के लिए कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढऩा चाहिए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने योग्य नौजवानों को केवल मैरिट के आधार पर 38000 से अधिक सरकारी नौकरियाँ दीं। उन्होंने कहा कि नौकरियाँ पारदर्शी ढंग से केवजल योग्य नौजवानों को ही दी जा रही हैं। उन्होंने कहा कि राज्य के औद्योगिक क्षेत्र में क्रांति आई है। उन्होंने कहा कि राज्य में 58000 करोड़ रुपए से अधिक का निवेश हुआ है और इससे निजी क्षेत्र में 2.98 लाख से अधिक नौकरियाँ पैदा होंगी। भगवंत सिंह मान ने कहा कि पिछले 18 महीनों के दौरान टाटा स्टील और अन्य बड़ी कंपनियों ने राज्य में निवेश करना शुरू कर दिया है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि पंजाब को अग्रणी और ‘रंगला पंजाब’ बनाने के लिए यह एक अहम कदम है।

इस दौरान अपने संबोधन में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने दुख के साथ कहा कि हमारे महान देश भक्तों और शहीदों ने अपनी जानें इस कारण कुर्बान नहीं की थीं कि आज़ादी के बाद आम लोगों को सरकारी दफ़्तरों में परेशान होना पड़े। उन्होंने कहा कि इन महान स्वतंत्रता सेनानियों ने बराबरी वाले समाज का सपना देखा था, जहाँ लोग आज़ाद भारत में मानक स्वास्थ्य, शिक्षा, मज़बूत सडक़ नेटवर्क, बिजली, पानी और अन्य सेवाएं प्राप्त कर सकें। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि पिछले 75 सालों के दौरान देश-भक्तों के यह सपने अधूरे रह गए क्योंकि किसी ने भी ‘भगवंत मान सरकार, आपके द्वार’ जैसा क्रांतिकारी कदम कभी भी शुरू नहीं किया। उन्होंने कहा कि यह नागरिक केंद्रित स्कीम आज़ादी से तुरंत बाद शुरू होनी चाहिए थी।
दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि इस स्कीम के शुरू होने से राज्य सरकार की लगभग 99 प्रतिशत सेवाएं लोगों को उनके घर बैठे हासिल होंगी और अब लोगों को अपने दफ़्तरी कामकाज के लिए सरकारी दफ़्तरों में परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि वह दिन दूर नहीं, जब लोगों को 100 प्रतिशत सरकारी सेवाएं उनके घर पर ही प्राप्त होंगी। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि यह देश के महान शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि है और उनके सपनों को साकार करने की ओर एक इंकलाबी कदम है।
दिल्ली के मुख्यमंत्री ने ज़ोर देकर कहा कि यह स्कीम लोगों की सुविधा के लिए साल 2018 में दिल्ली में शुरू की गई थी, परन्तु पंजाब को छोडक़र देश की किसी भी सरकार ने इसको लागू नहीं किया। उन्होंने कहा कि ऐसा इस कारण है क्योंकि बाकी राज्यों में सरकारी दफ़्तरों में आम आदमी से प्रशासनिक काम करवाने के लिए दलाल द्वारा लूटा जाने वाला पैसा वहाँ के मुख्यमंत्री समेत उच्च अधिकारियों तक पहुँच जाता है। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि पंजाब को छोडक़र देश की कोई भी सरकार ऐसा नहीं करेगी क्योंकि पंजाब के पास ईमानदार सरकार है।
दिल्ली के मुख्यमंत्री ने राज्य से भ्रष्टाचार का सफाया करने के लिए भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली सरकार की सराहना करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने भ्रष्टाचार के विरुद्ध मुहिम के तौर पर ‘भ्रष्टाचार विरोधी हेल्पलाइन नंबर’ शुरू किया था। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि कई बड़े भ्रष्ट व्यक्तियों को सलाखों के पीछे डाला गया है और उनसे बरामद किए गए पैसे को राज्य के विकास के लिए सूझ-समझ के साथ इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ‘भगवंत मान सरकार, आपके द्वार’ स्कीम से राज्य में भ्रष्टाचार पर हथोड़े की तरह हमला किया गया है। उन्होंने कहा कि 15 अगस्त का दिन ब्रिटिश साम्राज्यवाद से आज़ादी दिवस के तौर पर मनाया जाता है, अब आज के दिन को पंजाब से ‘भ्रष्टाचार से आज़ादी’ के दिवस के तौर पर याद किया जायेगा।
दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि यह योजना राज्य में 4000 से अधिक नयी नौकरियाँ पैदा करेगी, जिससे नौजवानों के लिए रोजग़ार के नये अवसर खुलेंगे। उन्होंने राज्य के विकास और लोगों की तरक्की को बढ़ावा देने के लिए कई विकास प्रमुख और लोक-हितैषी योजनाएं शुरू करने के लिए मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान की सराहना की। अरविन्द केजरीवाल ने आगे कहा कि राज्य के लोगों को दी गई एक-एक गारंटी को हर तरह से पूरा किया जायेगा, जिससे उनको अधिक से अधिक लाभ पहुँचाया जा सके।

TAGS: No tags found

Video Ad


Top