logo
Latest

न्याय के देवता की शरण में अब निरीक्षक अनिल नेगी, लगाई ये गुहार…


पौड़ीः उत्तराखंड के न्याय के देवता की शरण में अब निरीक्षक अनिल नेगी पहुंचे है। कर निरीक्षक अनिल नेगी ने जिला पंचायत प्रशासन पर मानसिक व आर्थिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। उन्होंने शहर में स्थित न्याय के देवता कंडोलिया से न्याय की गुहार लगाई है। उन्होंने भ्रष्टाचार में लिप्त जिला पंचायत पौड़ी पर ईश्वरीय कार्रवाई के लिए भगवान के द्वार पर अर्जी लगाई है।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार जिला पंचायत का विवादों से पीछा छूटने का नाम नहीं ले रहा है। पौड़ी जिला पंचायत के कर निरीक्षक अनिल नेगी (Pauri District Panchayat Tax Inspector Anil Negi) ने विभागीय भ्रष्टाचार से तंग आकर कंडोलिया देवता की शरण ली है। जिला पंचायत के कर निरीक्षक अनिल नेगी ने बताया कि साल 2019 से उनके द्वारा जिला पंचायत में हो रही अनियमितताओं व भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाए जाने को लेकर शासन, प्रशासन व सरकार तक गुहार लगाई गई। फिर भी जिला पंचायत में अनियमितताएं पर अंकुश नहीं लग पा रहा है।

बताया जा रहा है कि कर निरीक्षक अनिल नेगी ने जिला पंचायत प्रशासन पर मानसिक व आर्थिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. अनिल नेगी ने बताया कि साल 2019 से उनकी ओर से जिला पंचायत में हो रही अनियमितताओं व भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाए जाने को लेकर शासन, प्रशासन व सरकार तक गुहार लगाई गई। कर निरीक्षक ने कहा कि चार बार उसकी चरित्र प्रविष्टी को साजिश के तहत खराब किया गया है। जबकि मेरे कार्याधिकारी व एएमए स्तर पर मेरे कार्यों को सराहनीय बताया गया है।

उन्होंने कहा कि पूर्व कमिश्नर गढ़वाल रविनाथ रमन (Former Commissioner Garhwal Ravinath Raman) की जांच में वर्तमान अपर कार्याधिकारी, प्रभारी अभियंता, अवर अभियंता भ्रष्टाचार में लिप्त भी पाए गए। बावजूद भ्रष्टाचार में संलिप्त अधिकारी-कर्मचारी धनबल के चलते नियमित कर्मचारियों की नियुक्तियों को रद्द करवाकर निदेशालय सम्बद्ध कराते रहे हैं। ऐसे में उन्होंने अब न्याय के देवता कंडोलिया से उनको न्याय दिलाने की गुहार लगाई है।

 

TAGS: No tags found

Video Ad


Top